*मोतिहारी {पूर्वी चंपारण}*–  पूर्वी चंपारण जिले मेंअपराधियों ने फिर से अपना पैर पसारना शुरु कर दिया है. मोतिहारी शहर के मीना बाजार स्थित एक चूड़ा मिल संचालक से रंगदारी की मांग कर अपराधियों ने जिला पुलिस को एक बार फिर चुनौती दी है. अपराधियों ने उपेन्द्र प्रसाद कुशवाहा नामक चूड़ा मिल संचालक से पांच लाख रुपये रंगदारी मांगी है.
रंगदारी मोबाइल फोन पर कॉल करके मांगी गयी है. रंगदारी नहीं देने पर जान मारने की धमकी दी गयी है. रंगदारी की राशि दस फरवरी तक  बउधी देवी मंदिर के समीप पहुंचा देने की चेतावनी भी दी गयी है. इस संबंध में मिल संचालक के आवेदन पर नगर थाने में एफआईआर दर्ज किया गया है. केस दर्ज करने के साथ ही पुलिस इस मामले की वैज्ञानिक विधि से पड़ताल में जुट गयी है. उक्त व्यवसायी मुफस्सिल थाने के पतौरा गांव का निवासी बताया जाता है. उपेन्द्र कुशवाहा ने पुलिस को बताया है कि वह मीना बाजार स्थित अपने प्रतिष्ठान पर  व्यवसाय को संचालित कर रहे थे उसी दौरान मोबाइल पर फोन कर रंगदारी मांगी गयी. रंगदारी मांगने के दौरान अपराधी ने यह धमकी भी दी कि अगर पुलिस में जाएगा तो अंजाम और खराब हो जायेगा. रंगदारी की राशि मंदिर के समीप दस फरवरी तक पहुंचा देना, वहां उसका आदमी खड़ा रहेगा. रंगदारी मांगे जाने के बाद व्यवसायी का परिवार दहशत में है. उक्त व्यवसायी ने अपने एवं परिवार की सुरक्षा को लेकर पुलिस से गुहार लगायी है. यहां बता दें कि इससे पहले भी शहर के कई व्यवसायियों से अपराधियों ने रंगदारी मांगी थी. हाल के दिनों में कुख्यात अपराधी कुणाल सिंह की गिरफ्तारी के बाद से जिले में रंगदारी मांगे जाने की घटनाएं रुक गयी थी.