Cpx24.com CPM Program

पटना : रविवार से जयप्रकाश नारायण अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट से दिन-रात विमानों की उड़ान शुरू कर हो गई है। अभी तक जहां 36 विमानों की उड़ानें संचालित की जा रहीं थीं, वहीं 25 मार्च से नए शिड्यूल में इस एयरपोर्ट से 46 जोड़ी विमान उड़ान भरने लगे हैं। जेट एयरवेज ने पटना से पुणे के लिए नई सीधी उड़ान शुरू की है। यह रात में ही ऑपरेट होगी। साथ ही इंडिगो हैदराबाद व गुवाहाटी के लिए नई विमान सेवा शुरू की है। जेट की ओर से मुंबई व बेंगलुरु के लिए भी नई उड़ानें 25 मार्च से ही शुरू कर दी गईं हैं। एयरपोर्ट निदेशक लाहोरिया ने बताया कि 25 मार्च से जब प्रतिदिन 10 से 12 विमानों का दबाव और बढ़ जाएगा तो यात्रियों की संख्या में भी दो से ढाई हजार की बढ़ोतरी होगी, इसके लिए एयरपोर्ट प्रबंधन की ओर से तैयारियां की गईं हैं, ताकि यात्रियों का दबाव पडऩे पर कोई विशेष परेशानी न हो। यात्रियों के बैठने के लिए चेक-इन परिसर से बाहर दो-दो स्थायी पंडाल बनाए गए हैं, जहां 400 के आसपास यात्री बैठ सकते हैं। सिक्योरिटी होल्ड अप एरिया में बैठने के लिए पहले माले के चाणक्य हॉल के पास यात्रियों के बैठने के लिए 50 कुर्सियां लगाई गई हैं अंदर हॉल को तोड़कर बड़ा कर दिया गया है जहाँ लगभग 200 यात्रियों के बैठने की व्यवस्था की गई है।
पांच एकड़ जमीन में 2 पार्किंग बे का निर्माण किया जा रहा है जिसे अक्टूबर तक पूरा कर लिया जाएगा। यात्रियों के बोर्डिंग पास के लिए अभी चार गेट बनाए गए हैं और  पांचवें गेट की भी व्यवस्था की जा रही है। महिलाओं के लिए अलग से एक्स रे मशीन की व्यवस्था की गई है जिससे उन्हें पुरुषों के साथ कतार में खड़ा नहीं होना पड़ेगा ।

उड़ान भरने वाले विमान में जेट एयरवेज की उड़ान 9डब्लू 3539 विमान पुणे से रात 11 बजे प्रस्थान करेगी और पटना रात 01.35 बजे पहुंचेगी वापसी में यह सुबह 5.05 बजे पुणे पहुंचेगी।
इंडिगो एयरवेज की आइजीओ 341 बेंगलुरु से 18.35 बजे उड़ान भरेगी और 00.05 बजे रात में पटना पहुंचेगी। वापसी में आइगो 239 नंबर की फ्लाइट तड़के 3.55 बजे बेंगलुरु पहुंचेगी।
आइजीओ 544 कोलकाता से 18.55 बजे प्रस्थान करेगी और 00.25 बजे पटना पहुंचेगी। यह फ्लाइट कोलकाता वापस सुबह 5.30 बजे पहुंचेगी।
आइजीओ 147 फ्लाइट हैदराबाद से 19.55 बजे प्रस्थान करेगी और रात 01.27 बजे पटना पहुंचेगी।
इंडिगो के विमानों का परिचालन 30 अप्रैल से होना है। जबकि, जेट एयरवेज की फ्लाइटें पटना से बेंगलुरु, पटना से पुणे एवं पटना से दिल्ली के लिए प्रस्थान करेंगी। शुरू में 2-3 विमानों का ही परिचालन देर रात किया जा सकता है। कुछ ही दिनों में रात में उड़ानों की संख्या में इजाफा किया जा सकता है।